मॉब लिंचिंग क्या है| What is Mob Lynching|How to prevent Mob Lynching

पिछले कुछ सालों से मोब लिंचिंग काफी तेजी से बढ़ता जा रहा है लोगों का इकट्ठा होकर किसी 1 या उससे अधिक लोगों पर अपनी ताकत दिखाना उन्हें मारना इसे मॉब लिंचिंग कहते हैं मोब लिंचिंग की कोई एक वजह नहीं होती हाल ही में तबरेज अंसारी के बाद एक और घटना हुई जिसमें झारखंड के एक शहर में रहने वाले मुसलमान नौजवान को मॉब लिंचिंग के द्वारा जान से मार दिया गया |

मोब लिंचिंग एक ऐसी समस्या है जिसका उपाय निकालने में सरकार को काफी कठिनाई आ रही है लेकिन मोब लिंचिंग का उपाय निकालना उतना भी कठिन नहीं है अगर सरकार उसका उपाय निकालना चाहे तो |

हाल ही में वेस्ट बंगाल के गवर्नमेंट ने मॉब लिंचिंग के खिलाफ एक कानून बनाया अगर इसी तरह पूरे देश में एक कानून बन जाए मोबलीचिंग को रोकने के लिए तो यह काफी फायदेमंद हो सकता है मोब लिंचिंग को लेकर लोगों की बढ़ती बेचैनी को रोकने और इंडिया की फ्रेटरनिटी यानी भाईचारा को बचाने के लिए मॉब लिंचिंग की तरफ भारत सरकार को एक कानून लागू करनी चाहिए जिसमें दोषी को सख्त से सख्त सजा दी जाए |

हालांकि साधारण तौर पर मॉब लिंचिंग किए जाने वाले लोगों को 7 से 10 साल की सजा और 25000 से तीन लाख तक का जुर्माना देना पड़ता है जबकि इसके साथ साथ आईपीसी सेक्शन 307 भी उन पर लागू होना चाहिए ताकि जल्द से जल्द मोब लिंचिंग को रोका जा सके|

Leave a Comment