नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस पर अमित शाह का बयान|Amit Shah speech on NRC

भारत के यूनियन होम मिनिस्टर अमित शाह ने यह ऐलान किया कि अगले लोकसभा इलेक्शन 2024 से पहले वह हर एक इनलीगल माइग्रेंट्स को देश से निकाल देंगे, बीजेपी सरकार का इरादा नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस (NRC) को पूरी तरीके से लागू करना है

नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस एक लिस्ट है जोके 1951 में बनाई गई थी जिसमें आसाम के लोगों का नाम लिखा गया था अब 1951 के बाद जो लोग बाहर देशों से आसाम में आए हुए हैं उन्हें इनलीगल माइग्रेन मानकर देश से निकाला जाएगा भारत एक फ्रेंडली मुल्क रहा है मगर अब भारत सरकार की इस फैसले की वजह से भारत पर इंटरनेशनल लेवल पर असर पड़ सकता है

हाल ही में म्यानमार के रहने वाले रोहिंग्या के लोगों की हालत सामने आई थी |इनलीगल माइग्रेंट्स को लेकर भारत और बांग्लादेश में भी नुक्ताचीनी रहती है |अब ऐसे में सबसे बड़ी समस्या यह आती है कि अगर भारत के आसाम शहर में रहने वाले वह लोग जिनका नाम नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन में नहीं है अगर उन्हें निकाल दिया गया तो वह कहां जाएंगे |

Leave a Comment