कानपुर एनकाउंटर अपडेट: कानपुर में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मी

Hindi News

शातिर बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर देर रात गोलीबारी के दौरान कानपुर में आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए। एडीजी जय नारायण सिंह ने बताया कि घटना कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकारू गांव की है। पुलिस शातिर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी और उन पर बदमाशों ने हमला कर दिया था, जिसमें 8 जवान शहीद हो गए थे और 4 घायल हुए थे।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी और उनके परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने डीजीपी एचसी अवस्थी को दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है, उन्होंने इस घटना की रिपोर्ट भी मांगी है।

पुलिस ने विकास दुबे के तीन सहयोगियों को मार गिराया
कानपुर में एक और मुठभेड़ हुई है, जहां पुलिस ने तीन अपराधियों को मार गिराया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि ये तीनों वही अपराधी हैं जो विकास दुबे के साथ थे। जबकि विकास अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है।

मुठभेड़ में पुलिसकर्मी शहीद
मुठभेड़ में मारे गए आठ पुलिसकर्मियों में सीओ देवेंद्र कुमार मिश्रा, एसओ महेश यादव, चौकी इंचार्ज अनूप कुमार, सब-इंस्पेक्टर नेबुलाल, कांस्टेबल सुल्तान सिंह, राहुल, जितेंद्र और बबलू शामिल हैं।

पुलिस ने राज्य की सभी सीमाओं को सील कर दिया है। पुलिस ने कई इलाकों में तलाशी अभियान तेज कर दिया है। उधर, पुलिस बल ने गांव को चारों तरफ से घेर लिया है और गांव में भी तलाशी अभियान शुरू कर दिया है।

पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने कहा कि विकास दुबे कानपुर में एक हिस्ट्रीशीटर भी हैं। इस पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस बीकरू गाँव पहुँची जहाँ उन्होंने पुलिस को रोकने के लिए पहले से ही जेसीबी आदि लगाकर रास्ता रोक दिया था। पुलिस पार्टी के पहुंचते ही बदमाशों ने पुलिस टीम पर छतों से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें 8 पुलिस कर्मी शहीद हो गए।

एडीजी कानून-व्यवस्था घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं। एसएसपी और आईजी मौके पर हैं। फोरेंसिक टीम जांच कर रही है, एक फोरेंसिक टीम लखनऊ से जा रही है, एसटीएफ को भी लगाया गया है। विकास दुबे की लोकेशन का पता लगाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस किया जा रहा है। पुलिस की टीमें लगातार दबिश दे रही हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *