गिरिडीह सुसाइड केस :- युवक बंद कमरे में फांसी लगाकर किया सुसाइड, परिजनों ने कहा मानसिक रूप से बीमार था

युवक छत में बने कमरे पर अकेले ही सो रहा था गिरिडीह सुसाइड केस :- युवक बंद कमरे में फांसी लगाकर किया सुसाइड, परिजनों ने कहा मानसिक रूप से बीमार !


डूमरी थाना के अंतर्गत मध्य गोपाली पंचायत मैं स्थित एक गांव है दूधपनिया इस गांव में एक युवक ने अपने मकान में ही सुसाइड कर लिया ।

इस युवक ने सुसाइड क्यों किया यह जानकारी अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है लेकिन परिजनों का कहना है की युवक तकरीबन 15 दिनों से मानसिक रूप से बीमार लग रहा था

युवक का नाम रामेश्वर महतो है जिसका उम्र 27 साल और पिता का नाम पूषण महतो और युवक की पत्नी का नाम सुलेखा देवी और उनके दो छोटे-छोटे बच्चे एवं बाकी घर के सारे सदस्य दूसरे रूम में सो रहे थे। परंतु उनका पति ( मृतक )छत पर अकेले जाकर सो रहे थे ।

सुबह होने के बाद जब लोग आवाज दिए उठाने के लिए तो कमरे से कोई आवाज नहीं आई फिर जब दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे लोग तो देखा रामेश्वर फंदे से लटक रहा है यह देखकर सब भौचक्का रह गए पुलिस को घटना की सूचना देने के बाद अब डूमरी पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है अभी तक कोई रिपोर्ट नहीं आई है ( गिरिडीह सुसाइड केस )